Friday, December 15, 2017
Home > देश > हाफिज सईद और सोनिया गाँधी के कनेक्शन का खुलासा – पूर्व एयर चीफ मार्शल ने किया पर्दाफ़ाश

हाफिज सईद और सोनिया गाँधी के कनेक्शन का खुलासा – पूर्व एयर चीफ मार्शल ने किया पर्दाफ़ाश

देश की जनता की आँखों में धूल झोंक कर 60 सालों तक राज करने वाली कांग्रेस किस कदर धूर्त और गद्दारों का टोला बन चुकी है, इस बात का अंदाजा आपको इस बेहद सनसनीखेज खबर को पढ़कर हो जाएगा. हिन्दुओं को आतंकी साबित करने की कोशिशें करने वाली कांग्रेस के पाकिस्तानी आतंकियों के साथ कैसे सम्बन्ध हैं, ये भी इस खबर से पता चलता है. पूर्व एयर चीफ मार्शल (सेवानिवृत्‍त) मेजर फली होमी ने सनसनीखेज खुलासा करते हुए कांग्रेस की मक्कारी की दास्तान सुनाई है.

पूर्व एयर चीफ मार्शल मेजर फली होमी ने खुलासा किया है कि वायुसेना नौ साल पहले ही पाकिस्‍तान के कब्‍जे वाले कश्‍मीर में सर्जिकल स्‍ट्राइक करना चाहती थी. जब आतंकवादियों ने मुंबई में 26 नवंबर, 2006 को आतंकी हमला किया था, उसी वक़्त वायुसेना पाकिस्‍तान को सबक सिखाना चाहती थी.

भारत की वीर वायुसेना पाकिस्तान पर हमले के लिए तैयार थी और सक्षम भी. योजना थी कि पीओके में भारतीय वायुसेना के लड़ाकू जहाज भीषण बमबारी करके सभी आतंकी ठिकाने ध्वस्त कर देंगे. लेकिन तत्‍कालीन कांग्रेस सरकार ने भारतीय वायुसेना को ऐसा करने नहीं दिया. गौरतलब है कि मुम्बई पर हमले के पीछे हाफ़िज़ सईद की साजिश थी, मगर कांग्रेस ने वायुसेना के हाथ बाँध दिए और हाफ़िज़ व् उसके आतंकी गुर्गों के खिलाफ कोई एक्शन नहीं लेने दिया.

पूर्व एयर चीफ मार्शल फली होमी मेजर ने अपने हैरान कर देने वाले खुलासे में कहा है कि तत्‍कालीन कांग्रेस सरकार ने पाकिस्‍तान को सबक सिखाने के लिए पूरी तरह तैयार वायुसेना की सर्जिकल स्ट्राइक की योजना को ‘रोक’ दिया था.

पूर्व वायु सेना प्रमुख ने टाइम्‍स नाउ के सृंजय चौधरी के साथ बातचीत में रविवार को यह सनसनीखेज खुलासा किया और कहा कि वायुसेना 2008 में सर्जिकल स्‍ट्राइक के लिए पूरी तरह तैयार और सक्षम थी. मुंबई हमले के नौ साल बाद पूर्व वायु सेना प्रमुख ने यह सनसनीखेज खुलासा करते हुए कहा कि वायुसेना की योजना 2008 में ही पाकिस्‍तान के कब्‍जे वाले कश्‍मीर में आतंकवादियों के प्रशिक्षण शिविरों को निशाना बनाते हुए सर्जिकल स्‍ट्राइक की थी और वह इसमें सक्षम भी थी, लेकिन तत्‍कालीन कांग्रेस सरकार ने इसकी अनुमति नहीं दी.

बता दें कि कांग्रेस के खिलाफ रॉ के पूर्व उच्चाधिकारी आरएसएन सिंह ने एक मीडिया डिबेट के दौरान खुलासा किया था कि कोंग्रेसी नेताओं के पाकिस्तानी आतंकियों और पाक खुफिया एजेंसी आईएसआई के साथ सम्बन्ध हैं. उन्ही की साजिश पर कोंग्रेसी हिन्दुओं को आतंकवादी साबित करने के लिए साजिशें कर रहे थे.

अब पूर्व वायु सेना प्रमुख के खुलासे के बाद ये स्पष्ट है कि कांग्रेस नहीं चाहती थी कि पाकिस्तान व् उसके आतंकियों के खिलाफ कोई भी कार्रवाई हो. कोंग्रेसी नेताओं की धूर्तता व् कायरता के कारण भारतीय सेना की बदनामी हुई. जबकि पीएम मोदी ने पाकिस्तान को जवाब देते हुए सर्जिकल स्ट्राइक के तुरंत आदेश दे दिए थे.

गुजरात चुनाव से ठीक पहले हुए इस बड़े खुलासे के बाद कोंग्रेसियों के लिए मुँह छिपाने की नौबत आ गयी है. किस मुँह से राहुल गाँधी गुजरात की जनता से झूठे वादे करके अपनी पार्टी के लिए वोट मांगेंगे.

26/11 हमले के बाद यूपीए सरकार ने रोकी थी वायु सेना की ‘सर्जिकल स्ट्राइक’? pic.twitter.com/P71uPIlbkM

— NBT Hindi News (@NavbharatTimes) November 27, 2017

यदि आप भी जनता को जागरूक करने में अपना योगदान देना चाहते हैं तो इसे फेसबुक पर शेयर जरूर करें. जितना ज्यादा शेयर होगी, जनता उतनी ही ज्यादा जागरूक होगी. आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *