Friday, December 15, 2017
Home > देश > भारतीय सेना ने ली ये भीष्म प्रतिज्ञा – सैकड़ों गए और अब ये भी जायेंगे 72 हूरों से मिलने

भारतीय सेना ने ली ये भीष्म प्रतिज्ञा – सैकड़ों गए और अब ये भी जायेंगे 72 हूरों से मिलने

कश्मीर में सेना को पीएम मोदी ने खुली छूट दे दी है l सेना लगातार एक एक आतंकी को ठोंक रही है और सेना के इस रौद्र रूप ने आतंक के आकाओं की नींद उड़ा रखी है l पीएम मोदी ने कश्मीर के हालात सुधारने के लिए सेना को खुली छूट दी हुई है l यूपी चुनाव के बाद राष्ट्रपति चुनाव और जीएसटी जैसे कई बड़े कामों के हो जाने के बाद मोदी का मिशन कश्मीर शुरू हो चुका है और इसी के तहत भारतीय सेना ने ऑपरेशन ऑलआउट चलाया हुआ और कश्मीर को आतंक मुक्त करने के लिए बंदूकें हर रोज गरज रही हैं l

ऑपरेशन ऑलआउट के जरिये सेना का मकसद घाटी को आतंकमुक्त करना है और इसके तहत 258 आतंकियों की एक लिस्ट बनायी गयी है, जिनमे से अबू दुजाना समेत 108 आतंकियों को हूरों के पास भेजा जा चुका है, बाकी बचे 150 आतंकियों की तलाश जोरों-शोरों से चल रही है, जिनमें 6 आतंकी मोस्ट वॉन्टेड लिस्ट में भी शामिल हैं l खबर है कि अपने आतंकी भाइयों को इस तरह मारे जाते देख पीओके में ट्रेनिंग ले रहे आतंकियों ने भारत में घुसपैठ करने से ही इंकार कर दिया है, जिसे देख आतंकियों के आका भी परेशान हैं l

जिन आतंकियों का अब काम-तमाम किया जाएगा उनमे सबसे पहला नाम जाकिर रशीद भट्ट का है, जो ‘अंसार गजवत उल हिन्द’ नाम के आतंकी संगठन का डिवीजनल कमांडर है और सुरक्षा एजेंसियों के मुताबिक जाकिर रशीद भट्ट बेहद खतरनाक आतंकी है और इसीलिए इसे A++ कैटेगरी का आतंकी कहा गया है l

अगला नाम है रियाज जुबैर का, जो पुलवामा में हिजबुल मुजाहिद्दीन का डिस्ट्रिक्ट कमांडर है और ये भी बेहद शातिर और खूंखार बताया जाता है, इसलिए इसे भी A++ कैटेगरी में रखा गया है l इसके बाद है लश्कर का जीनत उल इस्लाम, इसे भी A++ कैटेगरी में रखा गया है l

इसके बाद वसीम उर्फ ओसामा का नंबर है, जो लश्कर का शोपियां में कमांडर है और इसे भी A++ कैटेगरी का खूंखार आतंकी बताया गया है l उसके बाद अबू हमास का नाम है, जो जैश-ए- मोहम्मद का खूंखार आतंकी है और इसे भी A++ कैटेगरी में रखा गया है l वसीम के बाद शौकत टाक का नंबर है, जो पुलवामा में लश्कर का सक्रिय आतंकी है और इसे भी A++ कैटेगरी का खूंखार आतंकी बताया जा रहा है l

इन सभी को “शूट एट साइट” यानी देखते ही गोली मारने के मिशन में सेना निकल पड़ी है और चप्पे-चप्पे को खंगाला जा रहा है, हर उस घर की सघन तालाशी ली जा रही है, जहाँ इनके छिपे होने का शक हो l अभी हाल ही में सेना ने लश्कर कमांडर अबु दुजाना को ठोक दिया है, जिसके बाद अबु इस्माइल को लश्कर कमांडर बनाया गया है l लश्कर कमांडर बनते ही अबु इस्माइल के नाम की गोलियां भी सेना ने बंदूकों में भर ली हैं l

संदिग्ध इलाकों को घेर लिया गया है, आतंकियों के भागने का एक भी रास्ता छोड़ा नहीं गया है l पत्थरबाजों से निपटने के सभी इंतजाम किये गए हैं l

आपको बता दें कि दक्षिण कश्मीर के शोपियां जिले में गुरुवार तड़के एक आतंकवादी हमले में भारतीय सेना के एक मेजर और एक जवान शहीद हो गए। पुलिस सूत्रों ने कहा कि घात लगाए आतंकवादियों ने जयपुरा गांव में एक सैन्य गश्ती दल पर हमला कर दिया और हमले में मेजर कमलेश पांडे, सिपाही तंजीन और सिपाही कृपाल सिंह सहित 3 जवान घायल हो गए। सूत्रों के अनुसार घायलों को तुरंत बादामी बाग छावनी इलाके के 92 बेस अस्पताल पहुंचाया गया, जहां मेजर पांडे और सिपाही तंजीन ने दम तोड़ दिया।’ सूत्रों ने बताया कि हमले के बाद आतंकवादी भागने में कामयाब रहे। आतंकी संगठन हिज्बुल मुजाहिदीन ने हमले की जिम्मेदारी ली है।

गौरतलब है कि सुरक्षाबलों ने आतंकियों के खिलाफ जीरो टॉलरेंस पॉलिसी अपना रखी है। सूत्रों के मुताबिक, जो सरेंडर नहीं कर रहे, उन्हें खत्म करने की पॉलिसी अपनाई गई है। इस साल अभी तक 100 से ज्यादा आतंकियों को ठिकाने लगाया जा चुका है। हालांकि, सुरक्षाबलों के ऐक्शन से आतंकियों में खलबली मची हुई है। इसी वजह से वे हताश होकर इस तरह आनन-फानन में हमलों को अंजाम दे रहे हैं।

इससे पहले गुरुवार तड़के कुलगाम जिले में एक अन्य मुठभेड़ में सेना ने 2 आतंकियों को मार गिराया गया। पुलिस के एक अधिकारी ने बताया, ‘कुलगाम के गोपालपोरा इलाके में गुरुवार सुबह सुरक्षा बलों के साथ हुई एक मुठभेड़ में 2 आतंकवादी मारे गए।’

आपको बता दें कि बुधवार रात को संदिग्ध आतंकवादियों के होने की सूचना के बाद भारतीय सेना और जम्मू-कश्मीर पुलिस ने एक जॉइंट सर्च ऑपरेशन लॉन्च करते हुए शोपियां के जिले के सुगान गांव में घेरा डाल दिया। इससे पहले भारतीय सेना को मिली एक बड़ी सफलता में लश्कर-ए-तैयबा के कमांडर अबु दुजाना और उसके साथी आरिफ को मंगलवार को एक एनकाउंटर में ढेर कर दिया गया था।

अधिकारी ने बताया कि मारे गए आतंकवादियों में से एक जिले में 1 मई को बैंक की वैन से नकद लूटे जाने की वारदात में भी शामिल था। इस वारदात में 5 पुलिसकर्मी और बैंक के दो सुरक्षा गार्ड मारे गए थे। अधिकारी के मुताबिक सुरक्षा बलों ने मौके से 2 हथियार भी बरामद किए हैं। उन्होंने बताया कि घटना के बारे में विस्तृत ब्यौरे का इंतजार किया जा रहा है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *