Wednesday, January 17, 2018
Home > देश > कोर्ट से आयी इस बेहद हैरान करने वाली खबर को देखने के बाद “पटेल” कभी भी राहुल को वोट नहीं देंगे

कोर्ट से आयी इस बेहद हैरान करने वाली खबर को देखने के बाद “पटेल” कभी भी राहुल को वोट नहीं देंगे

गुजरात चुनाव में झूठों का पुलिंदा बाँध रहे और जाति व् धर्म की राजनीति पर उतारू कोंग्रेसी युवराज राहुल गाँधी को जोरदार झटका लगा है. पाटिदार आंदोलन को हैक करके उसके नेता हार्दिक पटेल के जरिये अपनी चुनावी नैय्या को पार लगाने का उनका सपना टूट रहा है. हार्दिक पटेल के खिलाफ मेहसाणा सेशन कोर्ट ने गैर जमानती वारंट जारी किया है. कोर्ट ने हार्दिक पटेल समेत 7 लोगों के खिलाफ ये गैरजमानती वारंट विधायक ऋषिकेश पटेल के ऑफिस में तोड़फोड़ के मामले में जारी किया है.

हार्दिक पटेल के खिलाफ मेहसाणा कोर्ट ने जारी किया गैर जमानती वारंट

राहुल के सामने अब समस्या ये खड़ी हो गयी है कि चुनावों में अब किस मुँह से वोट मांगेंगे. एक अपराधी के दम पर कैसे गुजरातियों से वोट मांगेंगे. दरअसल कोर्ट को हार्दिक पटेल समेत 7 लोगों के खिलाफ आज ये वारंट जारी करना ही पड़ा क्योंकि ये लोग लगातार 3 पेशी में कोर्ट में पेश ही नहीं हुए हैं. पेश ना होने के पीछे तबियत खराब है, या ऐसा ही कोई अन्य बहाना भी नहीं, बल्कि ये लोग मोदी के खिलाफ चुनाव प्रचार के चक्कर में कोर्ट में पेश नहीं हुए हैं.

गुंडा-गर्दी और पब्लिक की संपत्ति जलाने के अपराध में चल रहा केस

आपको बता दें कि 23 जुलाई 2015 को विसनगर में पाटीदार समुदाय को आरक्षण दिलाने की मांग को लेकर निकली एक रैली के दौरान भडकी हिंसा में स्थानीय बीजेपी विधायक ऋषिकेश पटेल के कार्यालय में तोडफोड तथा वाहनों को आग लगाने से जुडे इस मुकदमे में हार्दिक को गुजरात हाई कोर्ट ने पिछले साल 11 जुलाई को जमानत दी थी.

 कोंग्रेसी युवराज की मुश्किलें बढ़ी

अब जबकि इनके खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी हो चुका है तो जाहिर है कि हार्दिक पटेल को जेल जाना होगा. कोंग्रेसी युवराज एक बार फिर चुनाव में अकेले पड़ जाएंगे. वहीँ इसका सीधा-सीधा फायदा बीजेपी को मिलता दिख रहा है.

पाटदारों के अलावा गुजरात के मुस्लिम भी बीजेपी के पक्ष में ही नज़र आ रहे हैं. ओपिनियन पोल से पता चला है कि गुजरात में बड़ी तादात में मुस्लिम कमल का बटन दबाने की इच्छा रखते हैं. ज्यादातर मुस्लिम बहुल इलाकों में तो पहले से ही बीजेपी की ही सरकार है. ऐसे में हार्दिक पटेल पर आया ये संकट दरअसल राहुल गाँधी के लिए ही बड़ी मुश्किलें लाया है. कांग्रेस राहुल को पार्टी अध्यक्ष बनाने के ख़्वाब भी देख रही है, मगर यदि राहुल के नेतृत्व में कांग्रेस ये चुनाव हार जाती है तो राहुल किसी को मुँह दिखाने के लायक भी नहीं रहेंगे.

यदि आप भी जनता को जागरूक करने में अपना योगदान देना चाहते हैं तो इसे फेसबुक पर शेयर जरूर करें. जितना ज्यादा शेयर होगी, जनता उतनी ही ज्यादा जागरूक होगी. आपकी सुविधा के लिए शेयर बटन्स नीचे दिए गए हैं.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *